Saturday 4 February 2012

चले-छुक छुकछुक-गाड़ी--

गाड़ी छुक-छुक चल रही, तेइस घंटे लेट ।
चौदह को निश्चित करे, वेलेन्टाइन डेट
वेलेन्टाइन डेट, बैठिये वेले नाहीं ।
लव-आईन का बन्ध, देखिए प्रेम-सुराही ।
final result photo manipulation
आँट-साँटकर भेंट, खेल कर प्रेम-खिलाड़ी।
 गत नाड़ी की तेज, चले-छुक छुकछुक-गाड़ी ।।

3 comments:

  1. अच्छा प्रयास है ...वेलेंटाइन डे के उपलक्ष में बढ़िया प्रस्तुति

    ReplyDelete

लिखिए अपनी भाषा में

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...