Friday 9 March 2012

यू पी लुटी बहार, हुई है स पा मीनिया--

टेनिया को बोला गया,  जमा करो सौ हार । 
अपनी पार्टी का बढ़े, यू पी में आधार । 
Photobucket
यू पी में आधार, तीन पीढ़ी आ धमकी ।
राहुल में है धार, नहीं है सौ से कम की । 

Congress leader Rahul Gandhi
लेकिन लुटी बहार, फैलती स पा मेनिया ।
लेत धुरंधर हार, हार पर बचे टेनिया ।।
Akhilesh Yadav: the making of a leader

5 comments:

  1. बहुत बढ़िया प्रस्तुति!
    घूम-घूमकर देखिए, अपना चर्चा मंच
    लिंक आपका है यहीं, कोई नहीं प्रपंच।।
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  2. बहुत सुंदर बेहतरीन प्रस्तुति

    RESENT POST...फुहार...फागुन...

    ReplyDelete
  3. लेकिन लुटी बहार, फैलती स पा मेनिया ।
    लेत धुरंधर हार, हार पर बचे टेनिया ।।
    राहुल आइसक्रीम लें, दिग्गी लें कोकीन | इस अवसादी घडी में, जल बिन तडपे मीन | जल बिन तडपे मीन, छीन कर सपने भागा | लाओ एक जहीन, कराये योगा- यागा | कर ले योग विषाद, राम-लीला गर खाली | लागे फिर से शिविर, भेजिए झट पड़ताली ||
    मति मंद चन्द्रगुप्त और आज के चाणक्य का यही हश्र होना था .बहुत बढ़िया रविकर जी .जल्दी पढियेगा कोंग्रेस के इस चाणक्य पर धारदार व्यंग्य डॉ वागीश मेहता प्रणीत .

    ReplyDelete
  4. बढ़िया प्रस्तुति....

    ReplyDelete

लिखिए अपनी भाषा में

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...