Wednesday, 10 September, 2014

वह एक ख़ामोश कज़रारी शाम

वह एक ख़ामोश कज़रारी शाम थी जब किसी ने पीछे से कन्धे पर हाथ रखकर खनकती आवाज़ में पूछा था "मेरे साथ चलोगे बाबू!" और उसे बिना देखे मेरे मुँह से अनायास निकला था "हाँ चलूँगा" फिर मैं चल पड़ा कैसे? क्यों? कहाँ? कुछ पता नहीं, उसका भी पता नहीं... अब तक चलता जा रहा हूँ इस उम्मीद में कि रात के दो बजेंगे और वह पीछे से कंधा झकझोरकर कहेगी- "अब बस बहुत हो चुका आइए हो ही जायँ वारे-न्यारे जन्मान्तर के"।
जब रात का दो बजेगा चारों तरफ़ सन्नाटा होगा हवा साँय साँय करेगी चमगादड़ों की चिकचिक और गीदड़ों के हुआँ हुआँ से वातावरण भयानकता के चरम पर पहुँच चुका होगा तब सम्पर्क करूंगा आप सब आना ज़ुरूर यहां जश्न होगा, मदिरा छलकेगी ठहाके लगेंगे नृत्य होगा... ज़िन्दगी का असली लुत्फ़ क्या आप नहीं लेना चाहते?
उसे मैं पकड़ना तो चाहा था पर वह मेरे हाथ से मछली के मानिन्द फिसलकर तीन गज़ के फ़ासले पर जा खड़ी हुई उस समय भी मेरे सामने उसकी पीठ ही थी और वह खिलखिलाती हुई कह रही थी- "वक़्त को पकड़ना चाहते हो बाबू! आजतक कोई नहीं पकड़ पाया सब निराश ही हुए हैं" पर मैं निराश नहीं हूँ मैं उसे पकड़ूँगा ज़ुरूर पकड़ूँगा ऐसा कहकर वह मुझे हताश नहीं कर सकती मैं दिखा दूँगा कि मैं सब नहीं।
वह जा चुकी थी मैं भी जा चुका था पर आज वह फिर आएगी क्योंकि आज मैं फिर आया हूँ बस दो बजे का समय आ जाय जो अभी तक न आया... वह आएगा उसे आना ही होगा।
·         Anuradha OsSumita KamthanRaju Jaihind और 10 अन्य को यह पसंद है.
·         Pushpa Tiwari फिर ??
·         Arun Kumar Singh अब आपके वारे-न्यारे देखने के लिए रात 2 बजे तक कौन जगे...सुबह अख़बार देख लूँगा

·         Sanjay Pathak आज गाफिल की आँखो में ------ के लाल डोरे दिख रहे हैं , आगे कुछ ना बोलो Pushpa जी --

·         Sanjay Pathak सांय - सांय आज न होगी
मौसम विभाग की भविष्यवाणी है कि
आज हवा बन्द रहेगी
भूतों को सलाह दी जाती है कि
पेड से न उतरें फालतू किराया देना पड़ेगा ।

·         Pramod Kumar Singh Abhi Jo hawa me gayab hui thi...uska kissa khatam Nahi hua...aur dooji fir!!!!!!

·         Sanjay Pathak जरूर पकड़ेंगे , ये मुंह मियां - भूत ---

·         Pramod Kumar Singh Kaahe pakadane k fer me pade ...mahsoos kijiye

·         Pushpa Tiwari आज हम कुछ ना बोलेगे बस हमें कहानी सुननी है आज पूरी 

·         Pramod Kumar Singh Kahani poori Naa hogi ..taaumra.... Pushpa

·         Singh Arun Gujraa hua jamaana.... aata nahi dubaara.... Khuda Hafiz bol k.. gayaa koma bhayee.... Sarry... Gafil bhayee

·         Pushpa Tiwari हां हमें पता है पूरी नहीं होगी और होनी भी नहीं चाहिए *******

·         Singh Arun Do bazega...fir baarah

·         Sanjay Pathak अमे आज दुइ तौ दुपहरिया मा बजि गवा 
गोली न देव भूत गुरू ---

·         Singh Arun Raat ke 12 baze...kahin shahnaaye baze....aur...4 baz gaye ..party a hi baaki hai...me madhyaantar me...2 baze ki... kaani ungli ka kkyaa rahasya hai....??(...:((
·         Pushpa Tiwari Singh Arun जी आप तो मुर्गे वाली पार्टी की तैयारी कीजिये आपके मित्र बस पहुँचने वाले है

·         Singh Arun Abbhi kahan... subah severe 4 baze
...ye murge se competition ka bird flue jo pakda hai... kambhakt ko

·         Praveen K Srivastava Mast...

·         Sumita Kamthan Ye raat ko 12 baje se 4 baje ki kouno party hei Ghafil Babu...jashan-e-bhoooooooootaannn ..ufffffffffff yahan to sab ulte panjon wale...bap re bap😈😬😎😎😎😎😎😎

·      Singh Arun Vaise... ye bhootni ki...bavaal-e-jaan hai kaun. Jo 2 baze...raat-dahaade halkaan kar rahi....hamare bhole-bhale Gafil bhayee ko...

Top of Form

3 comments:

  1. पकड़ लेना और बांध भी देना ।

    ReplyDelete
  2. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 11-9-2014 को चर्चा मंच पर चर्चा -1733 में दिया गया है ।
    आभार

    ReplyDelete
  3. पता नहीं--परिकल्पना या कि---?

    ReplyDelete

लिखिए अपनी भाषा में

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...