Saturday, 20 April, 2013

विडम्बना

चौराहे पर कीचड़ सना वह आदमी जो अभी मरा है एक बूँद पानी को तरसता अभी लोग उसे सहानूभूति पूर्वक घड़ों पानी नहलाएँगे फिर पवित्र गंगा में प्रवाहित कर देंगे

कमेंट बाई फ़ेसबुक आई.डी.

Thursday, 18 April, 2013

बिना प्रश्नवाचक चिन्ह, प्रतीक या भंगिमा के भी कोई वाक्य क्या प्रश्न हो सकता है : एक फ़ेसबुकीय परिचर्चा


Shashank Shekhar सर आपके लिए एक प्रश्न (यदि ये प्रश्न है तो):

क्या प्रश्नवाचक चिन्ह ही प्रश्न होने की पहचान है? क्या कोई प्रश्न बिना प्रश्नवाचक चिन्ह के नहीं हो सकता?

लिखिए अपनी भाषा में

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...